लॉकडाउन के दौरान मलेशिया और अफ्रीका में एक-एक झारखंडी की मौत, सीएम ने विदेश मंत्री से मांगी मदद

News Desk

हेमंत सोरेन ने एस जयशंकर से किया आग्रह, कहा- मलेशिया और अफ्रीका से शवों को झारखंड लाने में सहयोग करें

रांची. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने विदेश मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर से आग्रह किया है कि लॉकडाउन के दौरान रामेश्वर महतो की मलेशिया तथा महादेव सोरेन की अफ्रीका के मारूतानियां में मृत्यु हो गयी है। इन दोनों के शव को झारखंड लाने में सहयोग करने की कृपा करें।

परिवार वाले कर रहें हैं शव का इंतजार
दरअसल, मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि झारखंड के गिरिडीह निवासी रामेश्वर महतो की मलेशिया और हजारीबाग निवासी महादेव सोरेन की अफ्रीका में लॉकडाउन के दौरान मौत हो गई। उनके परिजन दो माह से शव का इंतजार कर रहे हैं।

गिरिडीह: परिजनों ने बताया 16 अगस्त 2018 को रामेश्वर महतो गया था मलेशिया
मलेशिया में मृत रामेश्वर महतो के परिजनों ने बताया कि 16 अगस्त 2018 को रामेश्वर लाइरिको ट्रांसमिशन कंपनी में काम करने गया था। 6 अप्रैल 2020 को उसकी वहां मौत हो गई। अब उसके पिता को अपने पुत्र, पत्नी को अपने पति और बच्चों को अपने पिता के शव का इंतजार है। रामेश्वर का शव मलेशिया के एक अस्पताल के मर्चरी में पड़ा है। वहीं परिजन दो माह से शव मिलने का इंतजार कर रहे हैं ताकि विधिवत अंतिम संस्कार किया जाए। शव भेजने में कंपनी कोई सार्थक पहल नहीं कर रही है, जिससे परिजनों में आक्रोश है।

हजारीबाग: फरवरी 219 में मरूतानिया गया था महादेव सोरेन
जिले के विष्णुगढ़ प्रखंड के भेलवारा निवासी महादेव सोरेन की मौत 27 मई को अफ्रीका के मरूतानियां में हो गई। वह नहाने के दौरान बाथरुम में गिरने से घायल हो गया था। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। जानकारी के मुताबिक महादेव सोरेन फरवरी 2019 में मरूतानियां गया था। वह वहां एक कंपनी के तहत ट्रांसमिशन लाइन में करता था।

(साभार : दैनिक भास्कर)

Share this news
Next Post

रांची में आज फिर 01 युवक निकला कोरोना पॉजिटिव

हेमंत सोरेन ने एस जयशंकर से किया आग्रह, कहा- मलेशिया और अफ्रीका से शवों को झारखंड लाने में सहयोग करें रांची. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने विदेश मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर से आग्रह किया है कि लॉकडाउन के दौरान रामेश्वर महतो की मलेशिया तथा महादेव सोरेन की अफ्रीका के मारूतानियां में […]